“Daily Current Affairs G.K. Questions In Hindi 24/June/2019”

“Daily Current Affairs G.K. Questions In Hindi 24/June/2019”

Download Click Here 

 

Que. 01. किस भारतीय ने कामनवेल्थ सेक्रेटरी-जनरलस इनोवेशन फॉर सस्टेनेबल डेवलपमेंट अवार्ड जीता?

 

उत्तर –  नितेश कुमार जांगिड़

 

Notes :–  भारत के इंजिनियर नितेश कुमार जांगिड़ ने 2019 कामनवेल्थ सेक्रेटरी-जनरलस इनोवेशन फॉर सस्टेनेबल डेवलपमेंट अवार्ड जीता। उन्हें यह पुरस्कार प्रीमच्योर बच्चों को सांस लेने के लिए सस्ती डिवाइस बनाने के लिए दिया गया है, इस डिवाइस का नाम “सांस” गया है।

मुख्य बिंदु

यह पुरस्कार प्रिंस हैरी (ड्यूक ऑफ़ ससेक्स), राष्ट्रमंडल के युवा एम्बेसडर तथा पैट्रीशिया स्कॉटलैंड, राष्ट्रमंडल महासचिव द्वारा प्रदान किया गया। यह पुरस्कार 53 राष्ट्रमंडल देशों में से 15 आविष्कारकों को प्रदान किया गया है। प्रत्येक विजेता को एक ट्रॉफी, प्रमाणपत्र तथा 2000 पौंड इनामस्वरूप प्रदान किये गये हैं।

नितेश कुमार

नितेश कुमार बंगलुरु बेस्ड इलेक्ट्रॉनिक्स  इंजिनियर हैं, वे Coeo Labs के संस्थापक हैं। Coeo Labs एक मेडिकल डिवाइस कंपनी है, इसका उद्देश्य आपातकाल तथा क्रिटिकल केयर के क्षेत्र में होने वाली मौतों को रोकना है। इस उद्देश्य से नितेश कुमार जांगिड़ ने “सांस”नामक डिवाइस की स्थापना की। इस डिवाइस का उपयोग नवजात शिशुओं के लिए किया जा सकता है। यह डिवाइस अन्य मशीनों से तीन गुना सस्ती है। इसका उपयोग पिछले तीन महीनों से देश के विभिन्न जिला अस्पतालों में किया जा रहा है।

*********************************************************************************************************************

 

 

Que. 02  भारत ने हाल ही में किस देश को अफ्रीकी संघ शिखर सम्मेलन का आयोजन के लिए 15 मिलियन डॉलर की वित्तीय सहायता प्रदान की है?

 

उत्तर – नाइजर

 

Notes :–  भारत ने नाइजर को अफ्रीकन यूनियन के शिखर सम्मेलन के आयोजन के लिए 15 मिलियन डॉलर की सहायता प्रदान की। इस शिखर सम्मेलन का आयोजन 7-8 जुलाई, 2019 के दौरान नाइजर के निअमे शहर में किया जायेगा। नाइजर पहली बार अफ्रीकन यूनियन के शिखर सम्मेलन का आयोजन कर रहा है।

मुख्य बिंदु

नाइजर को यह सहायता नाइजर में भारत के एम्बेसडर राजेश अग्रवाल ने नाइजर के विदेश मंत्री को सांकेतिक रूप से प्रदान की। भारत की इस सहायता से दोनों देशों के बीच सम्बन्ध मज़बूत होंगे। इससे भारत को चीनी दबदबे को कम करने में भी सहायता मिलेगी।

अफ्रीकन यूनियन (अफ्रीकी संघ)

अफ्रीकी संघ एक महाद्वीपीय संघ है, इसमें अफ्रीका के 55 देश शामिल हैं। इसका उद्देश्य अफ्रीकी देशों के बीच एकता को मज़बूत करना है। अफ्रीकी संघ की स्थापना 26 मई, 2001 को इथियोपिया की राजधानी आदिस अबाबा में की गयी थी, इसे 9 जुलाई, 2002 को दक्षिण अफ्रीका में लांच किया गया था। इसकी स्थापना आर्गेनाइजेशन ऑफ़ अफ्रीकन यूनिटी के स्थान पर की गयी थी। इसकी अधिकारिक भाषाएँ हैं : अरबी, फ़्रांसिसी, अंग्रेजी, पुर्तगाली, सोमाली, स्पेनिश, स्वाहिली तथा अफ्रीकी भाषाएँ।

अफ्रीकी संघ के प्रमुख उद्देश्य निम्नलिखित हैं :

  • सदस्य देशों के बीच एकता को मज़बूत करना।
  • सदस्य देशों की संप्रभुता तथा क्षेत्रीय अखंडता तथा स्वतंत्रता की सुरक्षा करना।
  • महाद्वीप में राजनीती, सामाजिक तथा आर्थिक को बढ़ावा देना।
  • अफ्रीकी महाद्वीप तथा लोगों के हितों की सुरक्षा करना।
  • अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को बढ़ावा देना।
  • महाद्वीप में शांति, सुरक्षा तथा स्थायित्व को बढ़ावा देना।
  • लोकतंत्र तथा सुशासन को बढ़ावा देना।

*********************************************************************************************************************

Que. 03 . किस भारतीय खिलाड़ी ने फोलक्सम ग्रैंड प्रिक्स 2019 में महिलाओं की 1500 मीटर की श्रेणी में स्वर्ण पदक जीता?

 

उत्तर –  पी.यू. चित्रा

 

Notes :–  भारत की पी.यू. चित्रा ने फोलक्सम ग्रैंड प्रिक्स 2019 में महिलाओं की 1500 मीटर की श्रेणी में स्वर्ण पदक जीता। इस प्रतियोगिता का आयोजन स्वीडन के सोलेन्तुना में किया गया। इस प्रतियोगिता में भारत के जिनसन जॉनसन ने रजत पदक जीता।

*********************************************************************************************************************

Que. 04.  Internet Corporation for Assigned Names and Numbers का मुख्यालय कहाँ पर स्थित है?

 

उत्तर – लॉस एंजेल्स

 

Notes :–  ICANN और NASSCOM ने IoT के लिए मानक निर्मित करने तथा सम्बंधित तकनीक विकसित करने के लिए सहमती प्रकट की है। सर्वप्रथम डोमेन नेम सिस्टम के द्वारा इन्टरनेट ऑफ़ थिंग्स डिवाइसेस के अपडेट किया जायेगा।

Internet Corporation for Assigned Names and Numbers (ICANN)

ICANN एक गैर-सरकारी, गैर-लाभकारी व निजी संगठन है, यह इन्टरनेट पर डोमेन नाम का अधीक्षण करता है। इसकी स्थापना 1998 में की गयी थी, इसका मुख्यालय अमेरिका के लॉस एंजेल्स में स्थित है। ICANN का उद्देश्य स्थिर व सुरक्षित इन्टरनेट सेवा सुनिश्चित करना है। यह इन्टरनेट प्रोटोकॉल इत्यादि का समन्वय का कार्य भी करता है। इसका अलावा यह न्यू टॉप लेवल डोमेन (TLD) जारी जारी करता है।

NASSCOM: National Association of Software & Services Companies

NASSCOM भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी (IT) और बिजनेस प्रोसेस आउटसोर्सिंग (BPO) उद्योग का वैश्विक गैर-लाभकारी व्यापार संगठन है. यह सॉफ्टवेयर और सेवाओं में व्यापार की सुविधा प्रदान करता है और सॉफ्टवेयर प्रौद्योगिकी में शौध प्रगतियों को प्रोत्साहित करता है. यह भारतीय समाज अधिनियम, 1860 के तहत पंजीकृत है और इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है.

बेंगलुरू, चेन्नई, हैदराबाद, कोच्चि, कोलकाता, मुंबई, पुणे और तिरुवनंतपुरम में इसके क्षेत्रीय कार्यालय भी हैं. विश्व स्तरीय आईटी व्यापार निकाय में 200 से अधिक सदस्य देश शामिल हैं, जिनमें से 250 से अधिक चीन, यूरोपीय संघ, जापान, अमेरिका और ब्रिटेन की कंपनियां हैं. NASSCOM की सदस्य कंपनियां सॉफ्टवेयर विकास, सॉफ्टवेयर सेवाओं, सॉफ्टवेयर उत्पादों, आईटी-सक्षम / बीपीओ सेवाओं और ई-कॉमर्स के क्षेत्र में कार्यरत्त हैं.

*********************************************************************************************************************

Que. 05.  विश्व शरणार्थी दिवस कब मनाया जाता है?

 

उत्तर – 20 जून

 

Notes :-  विश्व भर में शरणार्थियों की स्थिति के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए हर साल 20 जून को विश्व शरणार्थी दिवस मनाया जाता है। इस दिन का उदेश्य शरणार्थियों की दुर्दशा पर ध्यान आकर्षित करना है। विश्व शरणार्थी दिवस 2019 का विषय “#StepWithRefugees — Take A Step on World Refugee Day” है।

मुख्य तथ्य

इस दिन, संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (UNRA) को शरणार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्र उच्च आयुक्त (UNHCR) के रूप में भी जाना जाता है, जो विभिन्न कार्यक्रमों की मेजबानी करता है और अपने अभियान के लिए विषय की घोषणा भी करता है। UNHCR-The UN Refugee Agency की एक रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2017 में संपूर्ण विश्व में 68.5 मिलियन लोग अपने घरों से बलपूर्वक विस्थापित हुए थे। इसके साथ ही, यूएनआरए दुनिया भर में लाखों शरणार्थियों और आंतरिक रूप से विस्थापित व्यक्तियों पर जनता का ध्यान आकर्षित करना चाहता है, जिन्हें युद्ध, संघर्ष और उत्पीड़न के कारण अपने घरों से विस्थापित होना पड़ा।

पृष्ठभूमि

विश्व शरणार्थी दिवस 4 दिसंबर 2000 को संकल्प 55/76 पारित करके संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) द्वारा घोषित किया गया था। संकल्प संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी सम्मेलन, 1951 की 50 वीं वर्षगांठ को चिह्नित करने के लिए पारित किया गया था तभी से यह विभिन्न विषयों के साथ प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है। वर्ष 2000 में इस संकल्प को पारित करने से पहले 20 जून को कई देशों में अफ्रीकी शरणार्थी दिवस औपचारिक रूप से मनाया गया था। वर्ष 2017 का विषय  “Embracing Refugees to Celebrate our Common Humanity” था।

*********************************************************************************************************************

Que. 06.  हाल ही में सुर्ख़ियों में रहा “गुथी बिल” भारत के किस पड़ोसी देश से सम्बंधित है?

 

उत्तर –  नेपाल

 

Notes :-  हाल ही में नेपाल में लोग हजारों की संख्या में “गुथी बिल” के विरोध में सड़कों पर उतरे। नेवार समुदाय के लोगों द्वारा इस बिल का विरोध प्रमुखता से किया जा रहा है। उनका मत है कि इस बिल से भू-माफिया को लाभ मिलेगा और यह नेपाल की सदियों पुरानी संस्कृति व परम्पराओं के लिए खतरनाक हो सकता है। गुथी एक किस्म के सामाजिक-आर्थिक संस्थान हैं जो कृषिगत तथा पट्टे पर दी गयी परिसंपत्ति से आय अर्जित करते हैं।

*********************************************************************************************************************

Que  07 अन्तर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन की परिषद् में भारत का प्रतिनिधि किसे नियुक्त किया गया है?

 

उत्तर  – शेफाली जुनेजा

 

Notes :  1992 की भारतीय राजस्व सेवा अधिकारी शेफाली जुनेना को अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन की परिषद् में भारत का प्रतिनिधि नियुक्त किया गया है, उनका कार्यकाल तीन वर्ष का होगा। उनकी नियुक्ति आईएएस अधिकारी आलोक शेखर के स्थान पर की गयी है।

*********************************************************************************************************************

Que. 08.  हाल ही में क्रिकेट विश्व कप के इतिहास में सर्वाधिक रन खर्च करने वाले गेंदबाज़ कौन बनें?

 

उत्तर – राशिद खान

 

Notes :–  इंग्लैंड तथा अफ़ग़ानिस्तान के बीच खेले गये विश्व कप के मैच में कई रिकॉर्ड बने। इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में 6 विकेट के नुकसान पर 397 रन बनाये। इंग्लैंड के लिए कप्तान ओइन मॉर्गन ने 71 गेंदों में 148 रनों को बेहद शानदार पारी खेली, इस पारी में उनका स्ट्राइक रेट 208.45 रहा। उनके अलावा इंग्लैंड के लिए जेम्स विन्स ने 26, जोनी बेयरस्टो ने 90 तथा जो रूट ने 88 रन बनाये। इस मैच में अफ़ग़ानिस्तान के लिए दौलत जादरान और गुलबदन नायब ने 3-3 विकेट लिए।

इस विशालकाय स्कोर के जवाब में अफ़ग़ानिस्तान की टीम 50 ओवरों में 8 विकेट के नुकसान पर 247 रन ही बना सकी। अफ़ग़ानिस्तान के लिए गुलबदन नायब ने 37, रहमत शाह ने 46, हशमतुल्लाह ने 76 तथा असगर अफ़ग़ान ने 44 रन बनाये। इंग्लैंड की ओर से जोफ्रा आर्चर और आदिल राशिद ने 3-3 विकेट लिए, जबकि मार्क वुड ने 2 विकेट लिए।

रिकॉर्ड

इस मैच में कई रिकॉर्ड बने, जो कि इस प्रकार हैं :

  • इस मैच में ओइन मॉर्गन ने 148 रनों को तेज़-तर्रार पारी खेली। इस पारी में मॉर्गन ने 17 छक्के लगाए, यह किसी भी एकदिवसीय मैच में किसी एक खिलाड़ी द्वारा लगाए गये सर्वाधिक छक्के हैं। इससे पहले एक एकदिवसीय मैच में सर्वाधिक छक्कों का रिकॉर्ड रोहित शर्मा, ए.बी.डी. विलियर्स और क्रिस गेल ने नाम था, इन तीनों ने एक मैच में 16-16 छक्के लगाने का रिकॉर्ड बनाया था।
  • मॉर्गन ने मात्र 57 गेंदों में अपने 100 रन पूरे किये, यह इंग्लैंड के लिए विश्व कप में सबसे तेज़ शतक है। कुल मिलाकर मॉर्गन का यह शतक विश्व कप का चौथा सबसे तेज़ शतक है।
  • यह मैच अफ़ग़ानिस्तान के स्पिनर राशिद खान के लिए बेहद खराब रहा, राशिद ने इस मैच में 9 ओवरों में 110 दिए, जो कि विश्व कप में एक मैच में किसी खिलाड़ी द्वारा दिए गये सर्वाधिक रन है। राशिद की 8.1 ओवर में ही 100 रन बन गये थे, जो कि एकदिवसीय क्रिकेट में किसी गेंदबाज़ द्वारा खर्च किये गये सबसे तेज़ 100 रन है।
  • ओइन मॉर्गन ने इस मैच में 17 छक्के लगाये, इसके साथ ही उनके एकदिवसीय करियर में 138 छक्के हो गये, वे एकदिवसीय क्रिकेट में सर्वाधिक छक्के लगाने वाले कप्तान बन गये। इससे पहले यह रिकॉर्ड भारत के एम.एस. धोनी के नाम था, धोनी के नाम 126 छक्के हैं जबकि रिकी पोंटिंग के नाम 123 छक्के हैं।
  • इस मैच में इंग्लैंड द्वारा बनाये गये 397 रन विश्व कप में इंग्लैंड का सर्वाधिक स्कोर है।

*********************************************************************************************************************

Que. 09 . विश्व सिकल सेल दिवस कब मनाया जाता है?

 

उत्तर – 19 जून

 

Notes :–  प्रतिवर्ष 19 जून को विश्व सिकल सेल दिवस मनाया जाता है, इसका उद्देश्य सिकल सेल रोग के बारे में जागरूकता फैलाना तथा इसके उपचार के तरीकों के बारे में लोगों को बताना है।

विश्व सिकल सेल दिवस

इस दिवस को संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 2008 में मान्यता दी गयी थी, Sickle Cell Disease International Organization (SCDIO), कांगो गणराज्य, सेनेगल, अफ्रीकी संघ, यूनेस्को तथा विश्व स्वास्थ्य संगठन इत्यादि ने इसका समर्थन किया। पहली बार 19 जून, 2009 को विश्व सिकल सेल दिवस मनाया गया था।

सिकल सेल रोग क्या है?

यह एक आम वंशानुगत समस्या है, यह हीमोग्लोबिन में पायी जाने वाली एक असामान्यता है। सामान्य अवस्था में लाल रक्त कणिकाएं गोलाकार होती है और उनका जीवनकाल 120 दिन तक होता है। परन्तु सिकल सेल रोग में लाल रक्त कणिकाओं का आकार हंसिये (एक किस्म का औज़ार) की तरह होता है, यह सख्त हो जाती है, इनका जीवनकाल मात्र 10-20 तक ही होता है।

संयुक्त राष्ट्र के अनुमान के अनुसार प्रतिवर्ष 5 लाख बच्चे सिकल सेल रोग के साथ पैदा होता है, उनमे से आधे बच्चे पांच वर्ष की आयु तक पहुँचने से पहले ही मर जाते हैं।

*********************************************************************************************************************

Que. 10.  संयुक्त राष्ट्र की नवीनतम रिपोर्ट के अनुसार भारत किस वर्ष तक जनसँख्या के मामले में चीन से आगे निकल जाएगा?

 

उत्तर – 2027

Notes :–  हाल ही में संयुक्त राष्ट्र द्वारा “World Population Prospects 2019” रिपोर्ट जारी की गयी, इस रिपोर्ट के अनुसार 2027 तक भारत जनसँख्या के मामले में चीन को पछाड़ देगा।

मुख्य बिंदु

धीमी जन्म दर होने के बावजूद भी 2050 तक वैश्विक जनसँख्या में दो अरब का इजाफा होगा, 2019 में 7.7 अरब के मुकाबले 2050 में विश्व की जनसँख्या 9.7 अरब तक पहुँच जाएगी। इसमें 50% से अधिक जनसँख्या केवल 9 देशों में ही केन्द्रित होगी, यह नौ देश हैं – भारत, पाकिस्तान, अमेरिका, नाइजीरिया, डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ़ कांगो, इथियोपिया, मिस्र, तंज़ानिया तथा इंडोनेशिया। आने वाले समय में उप-सहारा अफ्रीका की जनसँख्या दोगुनी हो सकती है।

भारत : रिपोर्ट के मुताबिक 2050 तक भारत की जनसँख्या में 273 मिलियन की वृद्धि होगी और भारत इस सदी के अंत तक विश्व का सर्वाधिक जनसँख्या वाला देश बना रहेगा। 2019 में भारत की अनुमानित जनसँख्या 1.37 अरब तथा चीन की अनुमानित जनसँख्या 1.43 अरब है।

*********************************************************************************************************************

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *